Kotak Life
Close

Buy a Life Insurance Plan in a few clicks

Close

Now you can buy life insurance plan online.

Kotak e-Term Plan

Kotak e-Term Plan provides a high level of protection to your loved ones in your absence. Know more

Kotak Guaranteed Savings Plan

Kotak Guaranteed Savings Plan is a savings and protection plan that helps you achieve long-term financial goals and provides an insurance cover against any eventuality. Know more

Kotak E-Invest

Kotak e-Invest plan is a complete Unit-Linked Insurance Plan that can be customized as per your goals and needs. Know more

Kotak Health Shield

Kotak Health Shield Plan helps secure your finances in sudden medical expenses such as Cardiac, Liver, Neuro, and Cancer (all early and significant illness stages/conditions of cancer), along with offering protection for personal accidents - in case of accidental death or disability. Know more

Kotak Lifetime Income Plan

Kotak Lifetime Income Plan gives you the security of your income continuing throughout your life and in your absence throughout your spouse's lifetime! Know more

आयकर स्लैब 2021-2022

आयकर स्लैब 2021-2022
  • 16th Jun 2022 |
  • 3,171

यह कोई नई एवं आश्चर्यचकित कर देने वाली खबर नहीं है कि भारत में प्रत्येक करदाता एक विशेष स्लैब प्रणाली के अनुसार आयकर का भुगतान करते हैं। अलग-अलग आय श्रेणियों के लिए अलग-अलग कर दरें निर्धारित की जाती हैं और सभी भुगतान इन पूर्व-निर्धारित स्लैब के आधार पर किए जाते हैं। इतना ही नहीं, इस तरह के कर सरकार को एक प्रगतिशील और न्यायसंगत कर प्रणाली बनाने में मदद करते हैं।

भारतीय वित्त मंत्रालय अलग-अलग टैक्स स्लैब और कटौतियों को एक निर्धारित अंतराल पर जारी करता है जिसके परिणामस्वरूप नए प्रारूप तैयार होते हैं। इस प्रकार के समायोजन यह सुनिश्चित करते हैं कि देश और उसके निवासी बड़े तथा वैश्विक स्तर पर होने वाले लगातार बदलते आर्थिक विकास से लाभान्वित हों। निर्धारण वर्ष 2021-22 के लिए आयकर दरों को उन संशोधनों के साथ बदल दिया गया है जो नई कर व्यवस्था के तहत सभी वर्तमान और भविष्य के करदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं।

यदि आप करों की धारणा से अपरिचित हैं, तो आप सोच रहे होंगे कि आयकर में निर्धारण वर्ष अथवा आकलन वर्ष किसे कहते हैं? निर्धारण वर्ष की अवधारणा इतनी जटिल नहीं है। यह वर्तमान वित्त वर्ष के ठीक बाद का वर्ष है। वित्तीय वर्ष (financial year) और निर्धारण वर्ष (Assessment Year) दोनों 1 अप्रैल से शुरू होते हैं और 31 मार्च को समाप्त होते हैं। निर्धारण वर्ष वह समय अवधि है, जिसके दौरान एक वित्तीय वर्ष के दौरान उत्पादित आय मूल्यांकन योग्य और कर योग्य होती है।

आयकर जैसे विषय को विस्तार में समझने से पूर्व यह बात ध्यान देने योग्य है कि वर्तमान कर वर्ष 2021-2022 को आकलन वर्ष/निर्धारण वर्ष के रूप में जाना जाता है।

आयकर स्लैब 2020-21 (पुरानी व्यवस्था)

आय स्लैब (₹)

पुरानी व्यवस्था

(छूट और कटौती के साथ)

₹2.5 लाख तक

शून्य

₹2.5 - 5 लाख तक

5%

₹5 - 7.5 लाख तक

20%

₹7.5 - 10 लाख तक

20%

₹10 - 12.5 लाख तक

30%

₹12.5 - 15 लाख तक

15 लाख से अधिक

आयकर स्लैब 2021-22 के तहत बीमा और पेंशन कर

  • धारा 80 सी

पीपीएफ, ईपीएफ, एलआईसी प्रीमियम (जीवन बीमा), इक्विटी-लिंक्ड सेविंग स्कीम, हाउस लोन पर मूल भुगतान, और स्टांप ड्यूटी जैसे सभी निवेश धारा 80 सी के तहत कटौती के लिए मान्य होते हैं। इसका अर्थ यह है की यदि कोई करदाता ऊपर उल्लिखित किसी भी निवेश साधन में निवेश करता है, तो वे कर कटौती का लाभ उठाने के पात्र होंगे।

  • धारा 80 डी

धारा 80 डी के अनुसार कोई भी करदाता अपने, अपने जीवनसाथी और बच्चों के स्वास्थ्य बीमा के लिए ₹25,000 तक के कर कटौती का लाभ उठा सकता है। इसके अलावा, यदि करदाता एक वरिष्ठ नागरिक हैं तो वह ₹50,000 तक की कटौती के पात्र होंगे।

  • धारा 80 जी

इस धारा के नियमों और प्रावधानों के अनुसार, विभिन्न गैर-लाभकारी संगठनों (नॉन-प्रॉफिट आर्गेनाइजेशन) को कर-कटौती योग्य निवेश की अनुमति होती है।

  • धारा 80 सीसीडी

इस धरा के तहत, एनपीएस (NPS) खाते में निवेश किए गए धनराशि के लिए, ₹50,000 की वृद्धिशील कटौती की अनुमति है।

आयकर स्लैब 2021-22 (नई व्यवस्था)

कर स्लैब

नई आयकर व्यवस्था

₹2.5 लाख तक

शुन्य

₹2.5 लाख - ₹5 लाख

कुल आय का 5%

₹5 लाख - ₹7.5 लाख

₹12,500 + कुल आय का 10%

₹7.5 लाख - ₹10 लाख

₹37,500 + कुल आय का 15%

₹10 लाख - ₹12.5 लाख

₹75,000 + कुल आय का 20%

₹12.5 लाख - ₹15 लाख

₹1,25,000 + कुल आय का 25%

₹15 लाख से अधिक

₹1,87,5000 + कुल आय का 30%

कटौतियाँ जिनका दावा नई व्यवस्था के तहत नहीं किया जा सकता

नई कर व्यवस्था के तहत, कई कटौती और छूट अब मान्य नहीं हैं। यदि आप वेतनभोगी व्यक्ति, व्यवसाय या किसी भी अन्य पेशे से वेतन कमाते हैं, तो नीचे दी गई सूची में मौजूद सभी कटौतियाँ नई कर प्रणाली के अनुसार मान्य नहीं होंगी।

  • वेतनभोगी व्यक्तियों द्वारा ₹50,000 की मानक कटौती का दावा
  • एलटीए (Leave Travel Allowance)
  • वेतन और किराए की राशि के आधार पर एचआरए (House Rent Allowance )
  • अधिकतम ₹2,500/- का व्यावसायिक कर (Professional Tax)
  • धारा 80TTA और 80TTB के तहत उपलब्ध कटौती जो बचत खाते/जमा से प्राप्त ब्याज होता है
  • मनोरंजन भत्ते पर कर कटौती और सरकारी कर्मचारियों के लिए पेशेवर कर पर कटौती
  • स्व-अधिकृत या किसी खाली संपत्ति के लिए गृह ऋण पर देय ब्याज राशि
  • धारा 57 के खंड (ii) (ए) के तहत पारिवारिक पेंशन से ₹15,000 की कटौती
  • व्यावसायिक पेशेवरों द्वारा धारा 10एए के तहत विशेष आर्थिक क्षेत्रों को छूट का नुकसान
  • आयकर अधिनियम की धारा 32AD, 33AB, 33ABA, 35(1)(ii),35(1)(ii((a), 35(1)(iii), 35(2AA), 35AD और 35CCC) के अनुसार कटौती
  • आयकर अधिनियम की धारा 32(ii) (ए) के अनुसार अतिरिक्त मूल्यह्रास
  • पिछले वर्षों के मूल्यह्रास को आगे बढ़ाने या अवशोषित करने का विकल्प
  • अध्याय VI-A, 80C, 80D, 80E, 80CCC, 80CCD, 80D, 80DD, 80DDB, 80EE, 80EEA, 80EEB, 80G, 80GG, 80GGA, 80GGC, 80IA, 80-IAB, 80-IAC 80-आईबी, 80-आईबीए, आदि के तहत कर-बचत निवेश कटौती। इनमें ईएलएसएस, एनपीएस, मेडिक्लेम बीमा प्रीमियम पर पीपीएफ कर राहत, एफडीआर आदि शामिल हैं।
  • धारा 10(14) के अनुसार निम्नलिखित भत्तों को छोड़कर बाकी सभी भत्तें:
  • विकलांग कर्मचारी को दिया गया परिवहन भत्ता
  • वाहन भत्ता
  • दौरे या स्थानांतरण लागत पर किसी कर्मचारी की यात्रा को पूरा करने के लिए भत्ते
  • डीए (Daily Allowance)
  • अनुलाभ

आईटी अधिनियम के तहत व्यक्तिगत करदाताओं का वर्गीकरण

  • निवासी और अनिवासी - 60 वर्ष से कम आयु
  • निवासी - 60 से 80 वर्ष की आयु के लोग या वरिष्ठ नागरिक
  • निवासी - 80 वर्ष से अधिक आयु के लोग या अति वरिष्ठ नागरिक

वरिष्ठ नागरिकों के लिए टैक्स स्लैब (60-80 वर्ष)

कुल आय

नई आयकर व्यवस्था

(कटौती और छूट के बिना)

₹2.5 लाख तक

शुन्य

₹2.5 लाख से ₹5 लाख तक

5%

₹5 लाख से ₹7.5 लाख तक

10%

₹7 लाख से ₹10 लाख तक

15%

₹10 लाख से ₹12.5 लाख तक

20%

₹12.5 लाख से ₹15 लाख तक

25%

₹15 लाख से

30%

अति वरिष्ठ नागरिक के लिए टैक्स स्लैब (80 वर्ष से अधिक)

कुल आय

नई आयकर व्यवस्था

(कटौती और छूट के बिना)

₹2.5 लाख तक

शुन्य

₹2.5 लाख से ₹5 लाख तक

5%

₹5 लाख से ₹7.5 लाख तक

10%

₹7 लाख से ₹10 लाख तक

15%

₹10 लाख से ₹12.5 लाख तक

20%

₹12.5 लाख से ₹15 लाख तक

25%

₹15 लाख से

30%

एचयूएफ (HUF) के लिए टैक्स स्लैब

वार्षिक आय

नई कर व्यवस्था

पुरानी कर व्यवस्था

₹2.5 लाख तक

छूट

छूट

₹2.5 लाख से ₹5 लाख तक

5%

5%

₹5 लाख से ₹7.5 लाख तक

10%

20%

₹7 लाख से ₹10 लाख तक

15%

20%

₹10 लाख से ₹12.5 लाख तक

20%

30%

₹12.5 लाख से ₹15 लाख तक

25%

30%

₹15 लाख से

30%

30%

घरेलू कंपनी के लिए टैक्स स्लैब

घरेलू कंपनी

निर्धारण वर्ष 2020-21

निर्धारण वर्ष 2021-22

वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए कुल कारोबार/सकल प्राप्ति ₹400 करोड़ तक

25%

शुन्य

वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए ₹400 करोड़ तक का कुल कारोबार/सकल प्राप्ति

शुन्य

25%

कोई अन्य घरेलू कंपनी

30%

30%

नई कर व्यवस्था में वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए कुछ आवश्यक आयकर कटौती भी शामिल है, जो नीचे दी गई हैं:

गृह संपत्ति से किराये की आय

धारा 24 आपको अपनी आवासीय संपत्ति की आय से गृह ऋण या गृह सुधार ऋण पर भुगतान किए गए ब्याज को काटने की अनुमति देती है। आयकर नियमों के अनुसार, स्व-अधिकृत आवास के लिए गृह गिरवी पर किए गए ब्याज के लिए अधिकतम कटौती ₹ 2 लाख है।

स्वस्थ पॉलिसी प्रीमियम

स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम और निवारक स्वास्थ्य जांच के लिए भुगतान किए गए खर्चों की कटौती धारा 80डी के तहत पुनः प्राप्त की जा सकती है।

ई-वाहन ऋण

धारा 80EEB के तहत इलेक्ट्रिक वाहन की खरीद के लिए बंधक पर ब्याज शुल्क पर ₹ 1.5 लाख तक की कटौती की मांग की जा सकती है।

केंद्रीकृत पेंशन योजनाएं

नई कर व्यवस्था के तहत, केंद्र सरकार की पेंशन योजना में किए गए योगदान के लिए धारा 80 सीसीडी (1बी) के तहत ₹50,000 तक की कटौती प्राप्त की जा सकती है।

नए और पुराने आयकर स्लैब में अंतर

आय स्लैब (₹)

पुरानी व्यवस्था

(छूट और कटौती के साथ)

नई व्यवस्था

(छूट और कटौती के बिना)

₹2.5 लाख तक

शून्य

शून्य

₹2.5 लाख से ₹5 लाख तक

5%

5%

₹5 लाख से ₹7.5 लाख तक

20%

10%

₹7 लाख से ₹10 लाख तक

20%

15%

₹10 लाख से ₹12.5 लाख तक

30%

20%

₹12.5 लाख से ₹15 लाख तक

25%

₹15 लाख से

30%

आप क्या चुनेंगे: पुरानी या नई कर व्यवस्था?

यहाँ उत्तर बहस का विषय है और ईमानदारी से कहा जाए तो इस प्रश्न का कोई सही या गलत उत्तर नहीं है। यह सब इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी वित्तीय स्थिति कैसी है और आप सालाना आधार पर कितना कमाते हैं। दोनों कर वशताओं व्यवस्थाओं - पुरानी और नई के अपने-अपने पक्ष और विपक्ष हैं। हालांकि वित्तीय विशेषज्ञ और सलाहकार यह सलाह देते हैं कि आप किस तरह के दावों या छूटों में रुचि रखते हैं, इस पर ध्यान देने से पहले उचित तुलना करें, और उसके बाद ही आपको अपनी कर फाइलिंग के साथ आगे बढ़ना चाहिए।

नई कर व्यवस्था चुनने से पहले ध्यान रखने योग्य बातें

  • नई कर व्यवस्था के अनुसार, आयकर अधिनियम की धारा 80 सीसीडी (2) के तहत कटौती की अनुमति है (यहां, नियोक्ता कर्मचारियों की राष्ट्रीय पेंशन योजना में योगदान देता है)। अनुमत अधिकतम कटौती 10% है।
  • नई कर व्यवस्था वरिष्ठ और अति वरिष्ठ नागरिकों के लिए उच्च कर कटौती की अनुमति नहीं देती है।
  • आयकर अधिनियम की धारा 87A के अनुसार, अधिकतम ₹ 12,500 की छूट की अनुमति है।
  • आपको अपने नियोक्ता को एक घोषणा पत्र के माध्यम से सूचित करना होगा कि आप नई कर व्यवस्था का चयन कर रहे हैं।
  • जहां तक टीडीएस का संबंध है, आप एक वित्तीय वर्ष में व्यवस्थाओं के बीच बदलाव नहीं कर सकते।

निष्कर्ष यह है कि निर्धारण वर्ष 2021-22 के लिए आयकर दरों ने देश के आर्थिक ढांचे में एक महत्वपूर्ण बदलाव को चिह्नित किया है। इन नए कर स्लैब और कटौती के साथ, नई आयकर व्यवस्था और इसकी पूरी क्षमता का पता लगाया जाना बाकी है। हम केवल समय के साथ और जानेंगे!

Kotak e-Term Plan

Features

  • Nominal Cost
  • Multiple Plan Options
  • Flexible Payout Options
  • Critical Illness Rider
  • Tax Savings
  • Long term Coverage

Ref. No. KLI/22-23/E-BB/492

T&C

Browse our library of resources

- A Consumer Education Initiative series by Kotak Life

Similar Articles

Term Insurance: Smokers vs Non-Smokers

Term Insurance: Most Common Term Insurance Myths Explained | Kotak Life

5 Things To Consider While Buying Term Insurance Plan

Term Insurance – Why You Must Include In Your Financial Planning?

Why Term Insurance Is Important in times of COVID-19?

All About Term Insurance Inbuilt Coverage

Choosing Riders for Insurance Plans

What Is a Passive Income? Why Should You Use It to Buy a Term Plan?

What Should Be The Duration Of Your Term Plan in India?

Importance of Term Insurance at Every Stage of Your Life

Does Your Term Insurance Plan Cover Death Due to COVID-19?

What Happens if you Hide Facts in your Term Insurance?

Tips to Choose the Right Term Period for Term Insurance Plan

What Is the Correct Age to Buy Term Insurance?

Why Term Plan Should Be The First Step To Securing Your Future?

Different Types of Premium in Term Insurance

Insurance Policy for Housewife In India

Can I Extend the Tenure of My Term Insurance Plan?

Why Should You Buy Term Insurance in 2022?

Is Life Insurance Investment Worthy Enough

Do Beneficiaries Pay Taxes on Term Insurance?

Make Your Online Term Plan Your Familys Monthly Payout

Difference between Term Insurance and Life Insurance

Understanding Term Insurance Riders

Calculating Term Insurance Premium

Why Surrendering Your Term Plan Policy In The Final Phase Maybe A Bad Idea?

टर्म इंश्योरेंस क्या है? टर्म इंश्योरेंस का मतलब

Why Buy Term Insurance Even at Rising Rates?

How To Change The Nominee in Term Insurance?

Reasons You Need Term Insurance Plan as a Self-Employed Person

Can Term Insurance Plans Be Purchased As A Gift?

Protection for your family

What Should You opt for - Limited or Premium Pay?

Term Insurance Age Limit – Term Plan for All Age Groups

Best Investment Plans for Children - Secure Your Child's Future

8 Things To Do After Buying Term Insurance

What is a short term insurance policy?

Term Insurance: What Happens When You Don’t Pay Your Premiums?

Are The Add-ons and Optional Features of Term Insurance Plans Actually Beneficial?

6 Types of Death not covered in Term Insurance Plan

Increasing Term Insurance and Riders

Term Insurance Plans and Policies for Smokers

Steps on How to Buy Term Insurance Online

Which Death Type Does Your Term Plan Not Cover?

What is Term Insurance - A Complete Guide

What is a Joint Term Insurance Plan? Key Benefits of Joint Term Plan

Why Should New Parents Buy Term Life Insurance?

What are incremental term insurance plans?

Planning For Son or Daughter's Wedding

Tax Benefits of Term Insurance in India

What is Form 16, Form 16 part A, Form 16 part B, Information Required and FAQs

Term Insurance With Riders In India

Term Plan with Spouse Cover

Comparing Term Plans – What Should You Look Out For

How To Calculate The Amount Of Term Life Insurance You Need?

Insuring yourself against Ill Health with a Critical Illness Rider

Do You Need Term Insurance Cover After Retirement?

Term Insurance with Critical Illness

Top 3 Reasons Why You Should Buy A Term Plan Now

Can Senior Citizens Avail Term Insurance?

Does Term Insurance Cover Accidental Death?

8 Benefits of Term Insurance You Should Know

4 Methods to Calculate How Much Term Insurance You Need

Why Buying a Term Plan Is Smarter Than Traditional Life Insurance Products

Term Plans are Definitely Cheaper than You Think!

How To Choose the Right Sum Assured Under a Term Plan?

Should You Buy a Term Plan After 40?

Eligibility Criteria for Buying Term Insurance in India

What All Documents Required For Term Insurance In India?

5 Benefits of Early Retirement Planning

What is the Right Term Period For Term Insurance Policy? Here's How You Should Choose!

5 Term Insurance Benefits for Single Women

Why 1 Cr Term Plan Is Necessary For Family?

Insuring Against Disability With Disability Insurance Rider

Insuring Against Accidents with an Accidental Death Insurance Rider

Term Insurance Basics You Should Know

How to Compare Term Insurance Online

How Does Term Life Insurance Work? Learn the Benefits

Should Youngsters, Working Couples Buy Term Insurance Plans?

5 Reasons to Buy Term Insurance When You are in Your 30s

Why Married People Should Buy Term Insurance Under MWP Act?

How Does A Term Life Insurance Work in India?

Term Insurance Calculator - Everythng You Need To Know

Cost of Term Insurance Likely to Increase Soon

Why Should You Not Take A Term Plan Without Medical Test in India?

Everything About Claim Settlement Ratio for Term Insurance

What is Critical Illness Policy

What is Insurance Premium - A Detailed Guide

Make Your Online Term Plan Your Family's Monthly Pay Cheque

Is a Term Insurance Policy Portable?

Endowment Plans vs Term Plans: Understanding the difference

Why does every working woman need life insurance?

Buying A Term Insurance? Don't Ignore the Claims Settlement Ratio

All you need to Know about Term Insurance Plans for Housewives

How to Identify Term Insurance According to Your Needs?

Busting Myths and Facts About Term Insurance Policies

How Not To Get Your Term Insurance Claim Rejected

10-Year Term Life Insurance Policy - Explained in Detail

Advantages & Disadvantages of Term Insurance in India

Is Term Life Insurance Plan an Investment or Expense?

9 Ways to Help Family Members in Financial Trouble

Can Non-Resident Indians (NRIs) Buy Term Insurance In India?

How Much Term Insurance Do I Need

Why Buy Term Insurance Plan With a High Cover?

Advantages of Buying Term Insurance in Your 50s

Term Vs. Whole Life Insurance: Which One You Should Buy in India?

Gift Your Father A Term Insurance Plan This Father's Day

Ideal Features of a Suitable Term Plan - Act Now for a Stress-free Future

Is ₹1 Crore Term Insurance Good Enough Cover?

Key Differences Between Term Insurance, ULIPs, And Health Insurance

How Much Cover Should I Take In A Term Plan?

Term Life Insurance Plan for Smokers vs Non-Smokers

Can You Increase Your Term Insurance Cover?

Can I Buy Term Insurance for a COVID-19 Patient?

Different Types of Protection Plans

Do I Need to Give a Medical Test for Term Insurance in India?

Is it a Good Time to Buy Term Insurance During the COVID-19 Pandemic?

Should You Have Multiple Term Life Insurance Policies?

Is There Any Tax Benefit on Term Insurance?

When is the Right Time to Buy Term Life Insurance Policy for Yourself?

What are the Documents Required for Term Insurance Plan?

Insuring Protection Against Death With Death Insurance Rider

How to Surrender Term Life Insurance When you have No Liabilities

Is It Good To Buy A Term Insurance Plan In 2022?

6 Reasons That Make Term Insurance a Must Buy

How To Choose the Right Term Insurance Plan?

Individual Life Insurance vs. Group Term Life Insurance

What Types of Deaths Are Covered in a Term Insurance Plan?

Which Term Insurance to Choose: Lump Sum or Staggered Pay-out Plan?

Buying A Term Insurance Plan? Take These Factors into Account

Online vs Offline Term Insurance: Which Is The Better Option To Buy

Why is it important to buy term insurance plan?

What Is a Renewable Term Insurance Policy?

Can A Housewife Buy a Term Insurance Plan - All You Need to Know

Key IRDAI Regulations That Changed Face Of Term Insurance Industry In 2020

Why Premium Amount for Term Insurance is So Low?

How to Buy 1 Crore Life Insurance Policy Without Medical Test

Planning For Children's Future

Ensure Protection Against Death, Disease & Disability With Life Insurance

What Are Insurance Riders and How to Choose Them in a Term Plan?

Can I Get Term Insurance on Behalf of My Spouse?

What Happens to Term Insurance Plan With No Beneficiary - Kotak Life

4 Reasons Why You Need Critical Illness Cover

Why Should You Add a Rider to a Term Insurance Plan?

How Much Term Life Insurance Cover Do I Need in India?

4 Things To Expect From Your Term Insurance Plan in India

What Are the Best Term Insurance Plans for Planning Retirement?

Is Group Term Life Insurance Provided By Employer Sufficient?

9 Most Frequently Asked Questions on Term Insurance

Why Term Insurance Is Better Than ULIP?

While Buying Term Insurance Compare Features, Not Just Premiums

How to Ensure That Your Term Insurance Claims Are Never Rejected?

Is term Insurance Needed for People With No Dependents?

Know How to Invest at Every Age for Larger Returns

Can I Make Changes to My Term Insurance Policy Post Purchase?

Why should single women purchase term life insurance?

8 Factors to consider before choosing a Critical Illness Insurance